December 2012 | Asitav Sen

Asitav Sen

Let's Share. Photography, Travel and more

Browsing:

Month: December 2012

मंजिल

Bhagalpur

कश्मकश कुछ कम नहीं की थी किसी ने, मंजिल की तलाश में । पैरों पे खड़े तो हो गए हैं दुनिया कहती है, ये दिल जानता की कितना झुकना पड़ गया ।


ग़ुलामी

Natt, Gypsies of India

नमी सी दिख तो रही है आँखों में , पर रोने के लिए शायद वक़्त ही नहीं । ग़ुलामी का दौर सदियों से चल रहा है, अब तो आदत सी हो गयी है ।


Valmikinagar – lesser known tiger reserve in India

Valmikinagar

It’s exactly 2 years since I last visited this hidden treasure of Bihar – Valmikinagar. मा निषाद प्रतिष्ठां त्वमगम: शशवती समाः । यत क्रोंच्मिथुनादेकम अवधिः काममोहितम ।।  “No, Hunter you will Never rest in peace since you killed a helpless Read more…